Quotes

Dr Kumar Vishwas Shayari in Hindi and English: An Artistic Journey

The Elegance of Dr Kumar Vishwas Shayari in Hindi and English

Dr. Kumar Vishwas, a renowned poet and a master of language, has touched the hearts of millions with his soul-stirring Shayari in both Hindi and English. In this comprehensive article, we delve into the world of Dr. Kumar Vishwas Shayari, exploring his poetic brilliance that transcends linguistic boundaries.

Dr Kumar Vishwas Shayari in Hindi

वो जिसका तीर चुपके से जिगर के पार होता है,
वो कोई गैर क्या अपना ही रिश्तेदार होता है,
किसी से अपने दिल की बात तू कहना ना भूले से,
यहाँ ख़त भी थोड़ी देर में अखबार होता है..!!
जब बेमन से खाना खाने पर माँ गुस्सा हो जाती है,
जब लाख मन करने पर भी पारो पढने आ जाती है..!!
कोई दीवाना कहता है कोई पागल समझता है,
मगर धरती की बेचैनी को बस बादल समझता है,
मैं तुझसे दूर कैसा हूं तू मुझसे दूर कैसी है,
ये तेरा दिल समझता है या मेरा दिल समझता है..!!
मेरा जो भी तर्जुबा है तुम्हे बतला रहा हूँ मैं,
कोई लब छु गया था तब की अब तक गा रहा हूँ मैं,
बिछुड़ के तुम से अब कैसे जिया जाये बिना तडपे,
जो मैं खुद ही नहीं समझा वही समझा रहा हु मैं..!!
मोहब्बत एक अहसासों की पावन सी कहानी है,
कभी कबिरा दीवाना था कभी मीरा दीवानी है,
यहाँ सब लोग कहते है मेरी आंखों में आँसू हैं,
जो तू समझे तो मोती है जो ना समझे तो पानी है..!!
अमावस की काली रातों में जब दिल का दरवाजा खुलता है,
जब दर्द की प्याली रातों में गम आंसूं के संग होते हैं,
जब पिछवाड़े के कमरे में हम निपट अकेले होते हैं..!!
जब उंच नीच समझाने में माथे की नस दुःख जाती हैं ,
तब एक पगली लड़की के बिन जीना गद्दारी लगता है ,
और उस पगली लड़की के बिन मरना भी भरी लगता है..!!
मोहब्बत एक अहसासों की पावन सी कहानी है,
कभी कबिरा दीवाना था कभी मीरा दीवानी है,
यहाँ सब लोग कहते हैं मेरी आंखों में आँसू हैं,
जो तू समझे तो मोती है जो ना समझे तो पानी है..!!
मेरे जीने मरने में तुम्हारा नाम आएगा,
मैं सांस रोक लू फिर भी यही इलज़ाम आएगा,
हर एक धड़कन में जब तुम हो तो फिर अपराध क्या मेरा,
अगर राधा पुकारेंगी तो घनश्याम आएगा..!!
मैं उसका हूँ वो इस एहसास से इनकार करती है,
भरी महफ़िल में भी रुसवा हर बार करती है,
यकीं है सारी दुनिया को खफा है हमसे वो लेकिन,
मुझे मालूम है फिर भी मुझी से प्यार करती है..!!
एक पहाडे सा मेरी उँगलियों पे ठहरा है,
तेरी चुप्पी का सबब क्या है इसे हल कर दे,
ये फ़क़त लफ्ज़ हैं तो रोक दे रस्ता इन का,
और अगर सच है तो फिर बात मुकम्मल कर दे..!!
दीदी कहती हैं उस पगली लड़की की कुछ औकात नहीं,
उसके दिल में भैया तेरे जैसे प्यारे जज्बात नही..!!
जब कमरे में सन्नाटे की आवाज सुनाई देती है,
जब दर्पण में आँखों के नीचे झाई दिखाई देती है..!!
पनाहों में जो आया हो उस पर वार क्या करना,
जो दिल हारा हुआ हो उस पे फिर से अधिकार क्या करना,
मोहब्बत का मज़ा तो डूबने की कशमकश में है,
जो हो मालूम गहरायी तो दरिया पार क्या करना..!!
मेरे जीने मरने में तुम्हारा नाम आएगा,
मैं सांस रोक लू फिर भी यही इलज़ाम आएगा,
हर एक धड़कन में जब तुम हो तो फिर अपराध क्या मेरा,
अगर राधा पुकारेंगी तो घनश्याम आएगा..!!
कहीं पर जग लिए तुम बिन कहीं पर सो लिए तुम बिन,
भरी महफिल में भी अक्सर अकेले हो लिए तुम बिन,
ये पिछले चंद वर्षों की कमाई साथ है अपने कभी तो,
हंस लिए तुम बिन कभी तो रो लिए तुम बिन..!!
मैं उसका हूँ वो इस एहसास से इनकार करती है,
भरी महफ़िल में भी रुसवा हर बार करती है,
यकीं है सारी दुनिया को खफा है हमसे वो लेकिन,
मुझे मालूम है फिर भी मुझी से प्यार करती है..!!
हमारे शेर सुनकर भी जो खामोश इतना है,
खुदा जाने गुरुर ए हुस्न में मदहोश कितना है,
किसी प्याले से पूछा है सुराही ने सबब मय का,
जो खुद बेहोश हो वो क्या बताये होश कितना है..!!
पनाहो मै जो आए हो उस पार वार क्या करना,
जो दिल हारा हुया हो उस पै फिरसे आधिकार कया करना,
मोहब्बत का मजा तो डूबने की कशमकश मै हैं,
जाब हो मालूम गेहराई तो दरिया पार क्या करना..!!
वो पगली लड़की नौ दिन मेरे लिए भूखी रहती है,
छुप एल छुप सारे व्रत करती है पर मुझसे कभी ना कहती है..!!
कोई कब तक महज सोचे कोई कब तक महज गाए,
ईलाही क्या ये मुमकिन है कि कुछ ऐसा भी हो जाऐ,
मेरा मेहताब उसकी रात के आगोश मे पिघले,
मैँ उसकी नीँद मेँ जागूँ वो मुझमे घुल के सो जाऐ..!!
सखियों संग रंगने की धमकी सुनकर क्या डर जाऊँगा,
तेरी गली में क्या होगा ये मालूम है पर आऊँगा,
भींग रही है काया सारी खजुराहो की मूरत सी,
इस दर्शन का और प्रदर्शन मत करना मर जाऊँगा..!!
बस उस पगली लड़की के संग जीना फुलवारी लगता है,
और उस पगली लड़की के बिन मरना भी भारी लगता है..!!
जब साड़ी पहने एक लड़की का एक फोटो लाया जाता है ,
जब भाभी हमें मनाती हैं फोटो दिखलाया जाता है..!!
भ्रमर कोई कुमुदनी पर मचल बैठा तो हंगामा,
हमारे दिल में कोई ख्वाब पल बैठा तो हंगामा,
अभी तक डूब कर सुनते थे सब किस्सा मोहब्बत का,
मैं किस्से को हकीकत में बदल बैठा तो हंगामा..!!
जब बासी फीकी धुप समेटें दिन जल्दी ढल जाता है,
जब सूरज का लश्कर छत से गलियों में देर से जाता है..!!
कोई खामोश है इतना बहाने भूल आया हूँ,
किसी की इक तरनुम में तराने भूल आया हूँ,
मेरी अब राह मत तकना कभी ए आसमां वालो,
मैं इक चिड़िया की आँखों में उड़ाने भूल आया हूँ..!!
हमारे शेर सुनकर भी जो खामोश इतना है,
खुदा जाने गुरुर ए हुस्न में मदहोश कितना है,
किसी प्याले से पूछा है सुराही ने सबब मय का,
जो खुद बेहोश हो वो क्या बताये होश कितना है..!!
ना पाने की खुशी है कुछ ना खोने का ही कुछ गम है,
ये दौलत और शोहरत सिर्फ कुछ ज़ख्मों का मरहम है,
अजब सी कशमकश है रोज़ जीने रोज़ मरने में,
मुक्कमल ज़िन्दगी तो है मगर पूरी से कुछ कम है..!!
जब जल्दी घर जाने की इच्छा मन ही मन घुट जाती है,
जब कॉलेज से घर लाने वाली पहली बस छुट जाती है..!!
पनाहों में जो आया हो उस पर वार क्या करना,
जो दिल हारा हुआ हो उस पे फिर से अधिकार क्या करना,
मोहब्बत का मज़ा तो डूबने की कशमकश में है,
जो हो मालूम गहरायी तो दरिया पार क्या करना..!!
तुम्हीं पे मरता है ये दिल अदावत क्यों नहीं करता,
कई जन्मों से बंदी है बगावत क्यों नहीं करता,
कभी तुमसे थी जो वो ही शिकायत है ज़माने से,
मेरी तारीफ़ करता है मोहब्बत क्यों नहीं करता..!!

Dr Kumar Vishwas Shayari in English

He whose arrow secretly passes through the liver,
Is that stranger our own relative?
Don’t forget to tell your heart’s feelings to someone,
Here even a letter becomes a newspaper after some time..!!
When mother gets angry when she eats food reluctantly,
When Paro comes to study even after trying hard..!!
Some call him crazy, some consider him crazy,
But only the clouds understand the restlessness of the earth,
How am I away from you, how are you away from me,
Does your heart understand or my heart understands..!!
I am telling you whatever my experience is.
I touched some level then and am still singing,
How can I live now without suffering after being separated from you?
I am explaining what I myself did not understand..!!
Love is a sacred story of feelings,
Sometimes Kabira was crazy, sometimes Meera is crazy,
Everyone here says I have tears in my eyes,
If you understand then it is a pearl, if you don’t understand then it is water..!!
When the door of the heart opens on dark moonless nights,
When the cup of pain is accompanied by tears of sorrow in the nights,
When we are completely alone in the back room..!!
When the veins on the forehead hurt while trying to explain the highs and lows,
Then living without a crazy girl seems like betrayal.
And even dying without that crazy girl feels complete..!!
Love is a sacred story of feelings,
Sometimes Kabira was crazy, sometimes Meera is crazy,
Everyone here says I have tears in my eyes,
If you understand then it is a pearl, if you don’t understand then it is water..!!
Your name will come in my life and death,
Even if I hold my breath, the same accusation will still come.
When you are there in every heartbeat then what is my crime?
If Radha calls, Ghanshyam will come..!!
She denies feeling that I am hers,
She causes embarrassment every time even in a crowded gathering,
I am sure that the whole world is angry with us but,
I know she still loves me..!!
Like a mountain is resting on my fingers,
What is the reason for your silence, please solve it.
These are just words, so stop them.
And if it is true then complete the matter..!!
Sister says that crazy girl has no status,
Brother, there are no loving feelings like you in his heart..!!
When the sound of silence is heard in the room,
When freckles are visible under the eyes in the mirror..!!
Why should one attack someone who has taken shelter?
How to regain control over a heart that has been lost?
The joy of love is in the dilemma of drowning,
If you know the depth then what to do across the river..!!
Your name will come in my life and death,
Even if I hold my breath, the same accusation will still come.
When you are there in every heartbeat then what is my crime?
If Radha calls, Ghanshyam will come..!!
Somewhere I am awake without you, somewhere I am asleep without you,
Even in a crowded gathering, I often feel alone without you,
These are the earnings of the last few years with me,
Sometimes I laughed without you and sometimes I cried without you..!!
She denies feeling that I am hers,
She causes embarrassment every time even in a crowded gathering,
I am sure that the whole world is angry with us but,
I know she still loves me..!!
Who is so silent even after listening to our poems,
God knows how intoxicated with pride and beauty I am,
The jug has asked the cup the reason for the wine,
How can one who is unconscious himself tell how conscious he is..!!
What should I do if I attack someone who has come to my shelter?
How to regain control over a heart that has been defeated?
The joy of love is on the verge of drowning,
If you know the depth then what to do across the river..!!
That crazy girl remains hungry for me for nine days,
She observes all the fasts secretly but never tells me..!!
How long can someone just think, how long can someone just sing,
God, is it possible that something like this can happen?
May my beloved melt in the embrace of her night,
If I wake up in her sleep, she melts into me and goes to sleep..!!
Will I be scared after hearing the threat of coloring with my friends?
I know what will happen in your street, but I will come.
The whole body is getting wet like the statue of Khajuraho,
Don’t display this philosophy any more, I will die..!!
Just living with that crazy girl feels like a flower.
And dying without that crazy girl also feels heavy..!!
When a photo of a girl wearing a saree is brought,
When sister-in-law convinces us, the photo is shown..!!
If someone is confused and sits on a lily, then there is an uproar,
When a dream takes hold in our hearts, there is an uproar,
Till now, I used to listen to all the stories of love with fascination,
When I turned the story into reality, there was an uproar..!!
When the day fades away with stale sunlight,
When the army of sun goes late from the roof to the streets..!!
Someone is silent, I have forgotten so many excuses,
I have forgotten to sing in someone’s tune,
O sky people, don’t ever wait for me now.
I have forgotten to blow into a bird’s eyes..!!
Who is so silent even after listening to our poems,
God knows how intoxicated with pride and beauty I am,
The jug has asked the cup the reason for the wine,
How can one who is unconscious himself tell how conscious he is..!!
There is happiness in not getting something, there is sorrow in losing something,
This wealth and fame is just a balm for some wounds,
There is a strange dilemma in living every day and dying every day,
Life is perfect but it is less than perfect..!!
When the desire to go home early suffocates the mind,
When the first bus to bring you home from college misses..!!
Why should one attack someone who has taken shelter?
How to regain control over a heart that has been lost?
The joy of love is in the dilemma of drowning,
If you know the depth then what to do across the river..!!
This heart dies for you, why doesn’t it hate you?
He has been imprisoned for many lives, why doesn’t he rebel?
The same complaint I once had against you is from the world,
He praises me, why doesn’t he love me..!!

Share this post

Similar Posts